HomeIndian Armyभारत ने चीन के बंकर किये तबाह चीन को मिली सबसे बडी...

भारत ने चीन के बंकर किये तबाह चीन को मिली सबसे बडी शिकस्त

तो दोस्तों LAC की और से सबसे बडी खबर जी हा दोस्तों अब तक की सबसे बडी खबर सुनने को मिल रही है, यु कहे तो बीते देड साल से चल रहे इस सीमा विवाद में, आखिरकार भारत के हाथ बडी जित लगी है, चीन ने जिस सोच को रखकर लद्दाख में घुसपैट करने की कोशिश की यानी की सन 1962 वाले भारत की सोच, तो यही सोच आज चीन को ले डूबी है, चीन को अभी तक यही लग रहा था, की हम भारत की सीमा में घुसते चले जायेंगे, और भारत सरकार बाते बनाने के अलावा कुछ नहीं करेगी, लेकिन इसबार भारत सरकार चीन के खिलाफ सक्त रही, मतलब जहा बात करनी थी वहा कमांडर स्तर पर बात भी की, और जहा कार्रवाई करनी चाहिए थी, वहा सैन्य स्तर पर जवाबी कार्रवाई भी की, और इसी को लेकर आज एक बड़ा अपडेट सुनने को मिला.

दरअसल ANI, हिंदुस्तान टाइम्स, न्यूज़ 18 और इंडियन डिफेंस न्यूज़ वेबसाइट की ये ब्रेकिंग न्यूज़ बताई गयी, की LAC पर भारत ने एक बडी जित हासिल करते हुए चीन को पूरी तरेह से पीछे धकेल दिया है, ना सिर्फ उसे पीछे हटने को मजबूर किया, बल्कि लबे समय तक अपने सैनिक यहाँ तैनात करने के लिए चीन ने सीमा पर जो टेम्पररी कंस्ट्रक्शन किया था, उसे भी नष्ट कर दिया गया है, खबर के मुताबिक चीन गोगरा हॉटस्प्रिंग से तो पीछे हट गया, लेकिन फिंगर पॉइंट 17 से जाने को तैयार नहीं था, वो अभी भी उस इलाके को अपना बताकर वहा सैन्य तैनाती बढाता जा रहा था, लेकिन भारत की तरफ से की गयी 12वी दौर की बातचीत के बाद, आखिरकार चीन पीछे हटने को राजी हुआ.

अब आप ये सोच रहे होंगे की बीते देड साल से LAC पर किसी साप की भाती कुंडली मारकर बैठ चीन, यु अचानक से कैसे पीछे हट गया, तो आपको बता दे कोई भी चीज यु अचानक नहीं होती, उसके पीछे कई दिनों की मेहनत भी रेहती है, हम सभी को पता है की शुरुवाती तौरपर जब चीन ने लद्दाख में घुसपैट करने की कोशीश की, तब भारत ने उसे प्यार से समझाया, चीन नहीं माना तो दोनों सेनाओ के बिच झड़प हुयी, चीन फिर भी नहीं रुका तो भारत ने सैन्य स्तर बातचीत शुरू की,चीन फिर भी नहीं मान रहा था, तो इसबार भारत ने सीधे चीन की दुखती नस दबादी जो की है साउथ चाइना सी, जी हा दोस्तों इसबार भारत ने चीन को चेतावनी ही दे डाली थी, की चीन अगर अपनी हरकतों से बाज नहीं आता, तो भारत भी दक्षिण सागर में अपनी तैनाती बढाता रहेगा, वो भी पुरे क्वैड देशो के साथ.

और हम सभी जानते है ही दक्षिण चीन सागर चीन की मजबूरी है, वो इस इलाके में किसी की भी मौजूदी बर्दाश्त नहीं कर पाता, और भारत ने इसी बात का फ़ायदा उठाया है, वैसे चीन के लिए किसी झटके कम नहीं की, बीते देड साल से जिस जगेह को पाने के लिए चीन टेंट लगाये बैठा था, उन्ही टेंट को आज भारत ने उखाड फेक चीन को पीछे हटने को मजबूर किया, तो भारत की इस ऐतिहासिक जित के लिए एक जय हिंद तो जरुर लिखे.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments