HomeIndian NavyINS विशाल का बिल पास नेवी को मिलेंगे 3 कार्टिटर

INS विशाल का बिल पास नेवी को मिलेंगे 3 कार्टिटर

दोस्तों ये बात तो आप भी जानते होंगे कि आज से 4 साल पेहले चीन के पास एक भी विमानवाक युद्धपोत यानी ऐरक्राफ्ट काररिर नही था, जबकि भारत तो 2-2 काररिर्स को ऑपरेट कर रहा था, लेकिन अब परिस्थिति ऐसी है कि भारत के पास एक काररिर ऑपेरशनल जबकि चीन 2 2 काररिर्स को ऑपरेट कर रहा बल्कि चीन अगले साल ओर जंगी जहाज को समंदर में लॉन्च करने की तैयारी में है हालांकि भारत का INS विक्रांत थोड़े ही दिनों में नेवी में पूर्ण रूप से शामिल हो जाएगा लेकिन अगले दस सालों में चीन 5 ऐरक्राफ्ट्स काररिर्स समंदर में उतार चुका होगा, तो लाजमी है कि भारत के पास भी ज्यादा काररिर्स होने ही चाहिए, आपको बता दे कि एक ऐरक्राफ्ट काररिर जिसे नेवी का तैरता आइलैंड तक कहा जाता है, वो वक्त आने पर जंग की शक्ल भी बदल सकता है.

अमेरिकी नोसेना का सबसे खूंखार जंगी बेडा यानी 7 फ्लीट में मौजूद निमिट्ज क्लास के काररिर्स जिस किसी भी जगेह जाते है, वहा दुश्मन देशों के जेट्स या डिस्ट्रॉयर्स आसपास भी नही भटकते ओर यही कारण है कि अमेरिकी नोसेना का ये जंगी बेडा पूरी दुनिया मे बेझिझक होके घूमता रेहता है, भारतीय नेवी को भी कम से कम 3 से 4 काररिर्स की जरूरत है लेकिन बजट या फिर राजनीति की वजेह INS विशाल पर कोई ठोस कदम नही उठाये जा सके, लेकिन अब चीन इतने तेजी से काररिर्स का निर्माण कर रहा कि मंत्रालय को बडा फैसला लेना ही पड़ा जी हा दोस्तों डिफेंस न्यूज़ के मुताबिक रक्षामंत्रालय की संसदीय स्थायी समिति ने बड़े जोर देते हुए ये बिल पार्लिमेंट में पास किया की मौजूदा स्थिति को देखते हुए नेवी के पास कम से कम 3 काररिर्स तो होने ही चाहिए.

हमारे हर नये नये आर्टिकल देखणे के लिये हमारे फेसबुक पेज को follow करो : https://www.facebook.com/Arm-Updates-101345365721366/

तभी जाकर हम अपनी नेवल कॉम्बैट कैपेबिलिटीज बढ़ा सकते है, उनके मुताबिक पैसों की वजेह नेवी नही केह पा रही लेकिन नोसेना को आज के समय जितनी नूक सबमरीन्स की जरूरत है उतनी काररिर्स की भी, उनका मानना है कि एक काररिर को बनाने के लिए 5 से 10 साल का वक्त लगता है इसीलिए हमने अगर अभी शुरुवात नही की तो चीन की बराबरी करनी मुश्किल हो जाएगी, वैसे भी भारत के पास वर्ल्ड क्लास काररिर्स बनाने की क्षमता है, इसीलिए नेवी के लिए ओर एक काररिर्स बनाने की मंजूरी मंत्रालय को जल्द से जल्द दी जाए, देखा जाए तो अगले 10 सालों में चीन के पास 8 काररिर्स होंगे तो उसका मुकाबला करने हमारे पास कितने काररिर्स होने चाहिए नीचे कमेंट करके जरुर बताये.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments