HomeIndian Armyइजराइल से मंगाई मिसाइल तकनीक रस्तोम के लिए बनाई LR- ATGM मिसाइल

इजराइल से मंगाई मिसाइल तकनीक रस्तोम के लिए बनाई LR- ATGM मिसाइल

दोस्तों एक मेजर अपडेट DRDO की ओर से सुनने को मिल रहा है, ओर इस फैसले की मांग सेना पिछले कई वर्षों से सरकार की हथियार निर्माता कंपनीयों कर रही थी, जी हा दोस्तों में यहा बात कर रहा हु आर्मर ड्रोन्स की, वैसे ये आपको बताने की जरूरत नही की आज की तारीख में किसी भी सेना के लिए ड्रोन्स कितने मेंहत्त्वपूर्ण है, फिर चाहे दुश्मन की जरूसी करनी हो या उसके लॉन्च पैड्स उड़ाने हो ड्रोन हर तरेह की भूमिका निभाने में सक्षम है और आज कल तो ड्रोन के जरिये ग्राउंड अटैक मिसाइल्स भी फायर की जा रही, जिससे सामने वाली पैदल सेना का भयंकर नुकसान किया जा सकता है, फिलहाल के लिए तीनो सेनाओं की ड्रोन्स की कमी दूर करने भारत सरकार अमरीका से प्रीडेटर ड्रोन खरीद रही है, ताकि POK में छिपे पाक लडाकों पे बमबारी की जा सके.

लेकिन मेहेज 30 ड्रोन्स से काम नही बनेगा, चीन पाकिस्तान के पास भले ही वल्र्ड क्लास फाइटर जेट्स नही लेकिन आर्मर ड्रोन के मामले में वो भारत से आगे है, इसीलीये DRDO की ओर से फैसला लिया गया कि वो इजराइल की मदद से जल्द ही हेरॉन ओर रुस्तम ड्रोन में Long Range ATGM मिसाइल्स इंटिग्रेटे की जायेंगी, खबर के मुताबिक देश मे आर्मर ड्रोन्स तैयार करने भारत इजराइल से संपर्क कर रहा है, वैसे भी हम इजराइल के काफी सारे ड्रोन्स यूज़ करते है, ओर इसरायली अपने हेरॉन ड्रोन्स पर पेहली मिसाइल्स लगा चुके है, अब यही तकनीक भारत रुस्तम ड्रोन में लगाने की सोच रहा, बताया जा रहा है, सशस्त्र ड्रोन परियोजना के तहेत DRDO रुस्तम मार्क 2 को सबसे पहले मिसाइलों से लैस करेगा.

इस ड्रोन ने अभी 2 दिन पेहले ही अपनी लंबी दूरी तक उड़ान भरने वाले टेस्ट को सफलतापूर्वक पूरा किया था, इसके अलावा रुस्तम के कैप्टिव फ्लाइट ट्रायल्स भी पूरे हो चुके है, अब बस इससे मिसाइल्स फायर करनी बाकी है, DRDO का मानना है कि हमारे पास आर्मर ड्रोन को लेकर तमाम टेक्नोलजी मौजूद है, केंद्र हमे पमिशन दे, फिर सेना के लिए देश मे ही आर्मर ड्रोन्स को बनाने शुरू कर दिए जाएंगे, वैसे भी अमेरिका MQ 9 की तकनिके दे नही रहा तो क्या इजराइल के साथ मिलकर ही आर्मर ड्रोन बनाने सही रहेंगे आपके क्या कि विचार है निचे कमेंट जरुर करे.

हमारे हर नये नये आर्टिकल देखणे के लिये हमारे फेसबुक पेज को follow करो : https://www.facebook.com/Arm-Updates-101345365721366/

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments