HomeIndian Airforceब्रम्होस से Iron Dome उडने कि तैयारीरी भारत अब बस भीभी करोकरो...

ब्रम्होस से Iron Dome उडने कि तैयारीरी भारत अब बस भीभी करोकरो – इजराइल

दोस्तों देखा जाए तो अब सचमे अरब देशों ने इजराइल की घेराबंदी करनी शुरू कर दी, खासकर इजराइल को अपने जिस हथियार पे सबसे ज्यादा भरोसा रहा, उसे ही तबाह करने की प्लानिंग अरब देशों में हो रही, ओर इसमे मदद ली जा रही भारत के सबसे करीबी दोस्त रूस की जी हा दोस्तो इसबार रूस को बीच मे लाकर भारत पर दबाव बनाने की कोशिश की जा रही है, अब रूस भारत पे प्रेशर कैसे बना सकता है, क्यो दुनिया का सबसे एडवांस एयर डिफेंस सिस्टम खतरे में है, ओर इसमे भारत इजराइल की मदद कैसे कर सकता है ये सब बात आज की इस वीडियो में हम जानेगे लेकिन उससे पहले ये जान लेते है कि इजराइल ओर अरबो देशों के बीच का माहौल कैसा है.

अब देखा जाए तो इजराइल ओर अरब देशों के बीच का संघर्ष बहोत पुराना है, जून 1967 के वो दिन जब मिस्र, सीरिया जॉर्डन ओर रजब देश इसरसरल पे तूट पड़े थे, लेकिन सिर्फ 6 दिन में इजराइल ने सबको मुह के बल गिराकर जीत हासिल की थी, इसरसेल की एयरफोर्स ने मिस्र कि एयरफोर्स को कही का नही छोड़ा था, हालांकि अब परिस्थितिया बदल गयी, नेतनयाहू के बाद सऊदी से लेकर UAE इजराइल से अपने संबंध अच्छे करने की कोशिशों में है, लेकिन वही कुछ देश इजराइल को आज भी तबाह करने के ख्वाब देख रहे, ओर इन्ही में से एक नाम है मिस्र जी हा दोस्तो श्यायद आपको याद होगा कि इसी महीने एक वीडियो बनाकर मैने आपसे कहा था कि इजराइल का सबसे कट्टर दुश्मन देश यानी इजिप्ट भारत से ब्रह्मोस की मांग कर रहा है, ताकि ब्रह्मोस से इजराइल के आयरन डोम को उड़ाये जा सके, ये बात हर कोई जानता है, की इजराइल के आयरन डोम को फिलहाल सबसे एडवांस एयर डिफेंस सिस्टम के तौरपर देखा जा रहा यहा तक कि US आर्मी तक इसका इस्तेमाल कर रही, लेकिन इतनी Assurity होने के बावजूद इजराइल ने भारत को अपनी ब्रह्मोस मिसाइल मिस्र को देने से मना करने को कहा.

क्योकि इजराइल भी ये बात भले बाती जानता है, की दूसरा कोई हथियार आयरन डोम के सुरक्षा कवच में सेंध लगाये या ना लगाये लेकिन एक बार ब्रह्मोस को इजराइल की ओर फायर की गई तो हमारे आयरन डोम एक्टिव होने से पेहली ही तबाह हो जाएंगे, ऐसा इसलिये क्योकि इजराइल का जो आयरन डोम है, उसे खासकर ड्रोन, रोकेट्स, मोर्टार शेल्स, RPG या दूसरी मिसाइल्स को इंटरसेप्ट करने के मकसद ने डिज़ाइन किया गया, लेकिन ब्रह्मोस दुनिया एकलौती मिसाइल है जो अपने टारगेट को हिट करने तक सोनिक स्पीड से उड़ान भरती है, इजराइल के आयरन डोम इतना भी एडवांस नही की वो 4500km प्रति घंटी की रफ्तार से प्रहार करने वाली ब्रह्मोस को बीच रास्ते मे रोक सके, फिर भी आयरन डोम अपनी मिसाइल्स फायर भी कर लेते है तो भी ब्रह्मोस दूसरी मिसाइल्स को डॉज यानी पैतरेबाजी करके चकमा देने में सक्षम है, यू ही नही इसे अनस्टॉपेबल मिसाइल केहते है.

बताया गया कि भारत ने अभी तक कोई भी जवाब एजिप्शन आर्मी को नही दिया इसीलिए एजिप्शन सरकार ने रशिया से संपर्क कर भारत को ब्रह्मोस बेचने के लिए कहा है, मिस्र जनता है कि भारत रूस की बात नही टालेगा, रूस और इसरसेल के संबंध वैसे भी अच्छे नही ओर तो ओर रशिया ब्रह्योस वेंचर में भारत का पार्टनर भी रहा है तो ऐसे में हो सकता है कि रूस के केहने पे भारत ब्रह्मोस हमे बेच दे, हालांकि रूस की ओर से अभी तक कोई स्टेटमेंट सुनने को नही मिली, पर अगर रूस मिस्र के बेहकावे में आकर भारत को ब्रह्मोस मिसाइल मिस्र को देने को केहता है तो क्या भारत ने इजराइल के खिलाफ जाकर ब्रह्मोस बेचनी चाहिये या नही आपकी क्या प्रतिक्रिया है नीचे कमेंट जरुर करे. जय हिंद

हमारे हर नये नये आर्टिकल देखणे के लिये हमारे फेसबुक पेज को follow करो : https://www.facebook.com/Arm-Updates-101345365721366/

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments