HomeIndian NavyDRDO ने उतार दी LR न्यूक मिसाइल कराची हो या लाहोर सब...

DRDO ने उतार दी LR न्यूक मिसाइल कराची हो या लाहोर सब इसके निशाने

दोस्तो आपको भी पता है की DRDO को अग्नि मिसाइल बनाने में जितनी दिक्कत नही आई होगी, उससे दो गुना परेशानी निर्भय मिसाइल बनाने में हुई, अब आप बोलेंगे की अग्नि मिसाइल्स तो देश की सबसे ताकतवर मिसाइल्स है यहा तक इनकी रेंज भी हजारों किलोमीटर में है, जबकि निर्भय उससे दो गुना छोटी और रफ्तार में भी कम है तो फिर निर्भय मिसाइल में यूज़ की जाने वाली टेक्नोलॉजी इतनी जटिल क्यो बतायी जाती है, तो आपको बता दु की बैलिस्टिक मिसाइल्स ओर क्रूज मिसाइल्स दोनों की अटैक करने का तरीका काफी अलग है अगर बाते अग्नि सिरिजी की मिसाइल्स की तो एक रेपोर्टके मुताबिक कॉन्टिनेंटल मिसाइल्स अपनी ट्रर्मिनल स्पीड के चलते दुश्मन को संभालने का मौका नही देती, आप मान के ही चलिये की अग्नि मिसाइल्स एक सेकेंड में 5000m का रास्ता तय कर लेती है.

अपनी हाइपरसोनिक स्पीड की वजेह से दुश्मन को इनका पता तभी चल पाता है जब ये दुश्मन के इलाके में प्रवेश कर चुकी होती है इसीलिये ICBM मिसाइल्स को इंटरसेप्ट करना सबसे मुश्किल काम बताया गया, क्योकि इन्हें काउंटर करने दुश्मन के पास मेहेज कुछ सेकंड्स का वक्त होता है, जबकि क्रूज मिसाइल्स की बात करे तो ब्रह्मोस निर्भय जैसी मिसाइले S मनुवर कैपेबिलिटीज का इस्तेमाल करते हुए पहाड़ी इलाकों में छिपे दुश्मन रेडॉर्स को चकमा देकर वहा के मिलिट्री हार्डवेयर को नेस्तनाबूद करने के मसकद से डिज़ाइन की जाती है, क्रूज मिसाइल खास अपने पैतरेबाजी के लिए मशहूर होती है, ICBM की तरेह इनका कोई तयशुदा रास्ता नही होता, बल्कि इन्हें लॉन्च करने के बाद ये मिसाइल्स खुद तय करती है कि दुश्मन रेडॉर्स को चकमा वह तबाही कैसे मचाई जाये, आपको पता ही होगा कि ज्यादातर क्रूज मिसाइल्स पहाड़ो को छूते हुए या समुद्र पर तैरते हुए ट्रेवल करती है, जिनकी वजेह ये किसी के नजर में नही आती, ओर ऐसी मिसाइल तकनीक बनाना आसान काम तो है नही, अब ब्रह्मोस को तो हमने रूस के साथ मिलकर बनाई, लेकिन निर्भय के लिए रशिया की ओर से कोई मदद नही मिली.

DRDO ने आजतक अनेको मिसाइल्स बनाई वो अपने परीक्षणों सफल भी रही, लेकिन पहाडों छूते हुए उड़ान भरने वाली निर्भय क्रुज मिसाइल बनाने ने DRDO के भी पसीने छुटे खैर अब निर्भय की लगभग सभी तकनीक बनाई जा चुकी है और नई रिपोर्ट के मुताबिक निर्भय के 6 डिवलेपमेंटल ट्रायल्स कम्पलीट करने के बाद अब इस मिसाइल का सेकंड फेज शुरू किया जा रहा है, अपने सुना ही होगा कि हाल ही में DRDO ने ITCM यानी इंडिजेनस टेक्नोलॉजी क्रूज मिसाइल का सफल परीक्षण किया था तो दोस्तो वो ओर कोई मिसाइल नही बल्कि निर्भय मिसाइल ही थी, ओर अब ITCM प्रोग्राम के तहेत निर्भय मिसाइल को लंबी दूरी तक प्रहार करने में सक्षम की जा रही, निर्भय की रेंज करीब 1500 के आसपास बतायी जा रही है, लेकिन अब ITCM प्रोग्राम के तहेत निर्भय की रेंज 2000km तक बढ़ाई जाएगी, और ये देश की पहली परमाणु विस्फोट ले जाने वाली क्रुज मिसाइल होगी, जिसके निशाने पूरा पाकिस्तान रहेगा, ओर इसे भी इंटरसेप्ट करना ब्रह्योस कि तरेह नामुनकिन है,

वैसे क्या आपको पता है कि निर्भय मिसाइल्स को कोन ऑपरेट करता है नीचे.

हमारे हर नये नये आर्टिकल देखणे के लिये हमारे फेसबुक पेज को follow करो : https://www.facebook.com/Arm-Updates-101345365721366/

हमारे Youtube Channel पै जने के लिये यहा क्लिक करे – https://www.youtube.com/channel/UCLimwPQ0_EdNzNy_ODWRAtg

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments