HomeIndian Navy8950 Cr के जहाज से दागी Brahmos M DRDO ने चीन की...

8950 Cr के जहाज से दागी Brahmos M DRDO ने चीन की खटिया खड़ी कर दी

समुद्र से समुद्र में मार करने वाली ब्रह्मोस के एडवांस वर्शन का आज सफल टेस्ट किया गया, DRDO के इस एक ट्वीट ने चीनी नौसेना को जरुर हैरत में डाल दिया है, क्योकि आज जिस ब्रह्मोस मिसाइल का परिक्षण किया गया वो समुद्र से सतह पर मार करने वाली आम ब्रह्मोस नहीं थी, बल्कि हमारे वैज्ञानिकों ने ब्रह्मोस का ऐसा संस्करण बना दिया है, जो समुद्र के पानी से मेंहज ढाई मीटर की उचाई पर उड़ते हुए मतलब समंदर पे तेरते हुए दुश्मन नेवी के सबसे कीमती हथियार या नेवल एसेट यानी एयरक्राफ्ट काररीएर को तक डुबो सकती है, और इसे लांच भी ऐसे जहाज से की गयी,की जिसे डिटेक्ट करने में दुश्मन रेडार्स के तक पसीने छुट जाते है, जी हां दोस्तों DRDO की तरफ से बनायीं गयी ब्रह्मोस मरीन को भारतीय नौसेना के लीडिंग शिप यानी INS विशाखापत्तनम से टेस्ट फायर की गयी.

आपको बता दे की विशाखापत्तनम भारतीय नेवी में शामिल पेहला स्टेल्थ क्लास डिस्ट्रॉयर है जिसे बनाने में भारत ने करीब ८९५० करोड़ रुपये खर्च किये और से ४ जंगी जहाजों निर्माण का मझगाव शिपबिल्डिंग में हो रहा है, खैर नए सिरे से बनायी गयी ब्रह्मोस M की बात करे, तो एंटी शिप्स के मामले में ये दुनिया की सबसे सटीक मिसाइल बताई जा रही, इसे डिजाईन ही ऐसी की गयी की ये दुश्मन जहाज के सबसे कमजोर हिस्से को डिटेक्ट वही प्रहार करेगी, ताकि एक ही मिसाइल से पुरे जहाज को डुबोया जा सके, DRDO के मुताबिक इस मिसाइल के नेविगेशन या सीकर बनाने में किसी भी तरेह की रुस की मदद नहीं ली गयी, ये शत प्रतिशत स्वदेसी ब्रह्मोस है, जिहोने इसे लांच की उन नेवल अधिकारीयों के मुताबिक Sea To Sea वरियेंत वाली ब्रह्मोस मरीन ने अधिकतम रफ़्तार हासिल करते हुए अपने निर्धारित टारगेट को अट्मोस एक्यूरेसी यानी अत्यंत सटीकता के साथ हिट किया और एक्यूरेसी 1m CEP बताई जा रही है.

मतलब ब्रह्मोस 4500km/h की सोनिक को स्पीड मेनटेन करते हुए दुश्मन टारगेट के 1m सर्किल में जा गिरेगी, इतनी सटीकता तो आज तक अमेरिकी Tomahawk मिसाइल भी नहीं हासिल कर पाई, इसीलिए कहा जाता है, की ब्रह्मोस जिस किसी पर भी फिरे की जाएगी उसे खुद ब्रह्माजी भी नहीं बचा पाएंगे, यहाँ तक की S400 को मात दे चूका इजराइल भी भारत को अपनी ब्रह्मोस मिस्त्र को देने से मन कर रहा है,क्योकि मिस्त्र ब्रह्मोस से इजराइल के आयरन डोम को उड़ना चाहता है, हालाकि ब्रह्मोस की रेंज और स्पीड फिलहाल बताई नहीं गयी, लेकिन जो कुछ भी लेकिन हो ऐसी अचूक और तबाही मचानी वाली मिसाइल के सफल परिक्षण पर आप सभी DRDO के वैज्ञानिको एक जय तो जरुर लिखे.

हमारे हर नये नये आर्टिकल देखणे के लिये हमारे फेसबुक पेज को follow करो : https://www.facebook.com/Arm-Updates-101345365721366/

हमारे Youtube Channel पै जने के लिये यहा क्लिक करे – https://www.youtube.com/channel/UCLimwPQ0_EdNzNy_ODWRAtg

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments