HomeIndian Airforceभारत ने खडी करी $500M लिमीट हथियार भी बेचे मोटा मुनाफा भी

भारत ने खडी करी $500M लिमीट हथियार भी बेचे मोटा मुनाफा भी

दोस्तो मैने कहा था ना एकबार ब्रह्मोस डील फाइनल हो जाती है, तो देखना कैसे चीन से परेशान देंश भारत से हथियार खरीदने के लिए लाइन लगा देंगे, ऐसा नही की वो यूरोपियन देशों से हथियार नही खरीद सकते जी हां बिल्कुल खरीद सकते है, लेकिन वन टाइम पेमेंट पे, आसान भाषा मे कहे जिनके पास डेबिट कार्ड है वो 80 हजार का स्मार्ट फ़ोन वन पेमेंट में खरीदने से थोड़े हिचकिचाहट करते है लेकिन जिनके पास क्रेडिट कार्ड हो तो वो लाख रुपये का i फ़ोन भी बड़े आराम से खरीद लेते है, क्योकि यहा किश्तों में भी पेमेंट किया जा सकता है ओर ठीक यही सोच, यही रणनिति भारत अपने डिफेंस एक्सपोर्ट मार्केट में भी दिखा रहा है, आपको याद ही होगा कि 2017 से फिलीपींस भारत से ब्रह्मोस खरीदने की बात कर रहा था लेकिन हाई कॉस्ट की वजेह से फिलीपींस सरकार भी कही ना कही अपने पाव पीछे खींच रही थी, क्योकि मिलियन डॉलर्स एक ही दफा खर्च करना किसी भी मीडियम बजेट देश के लिए थोड़ा कठिन रेहता है, लेकिन जब राजनाथजी ने फिलीपींस जाकर लाइन ऑफ क्रेडिट की ऑफर की तो एक हफ्ते के भीतर ही हमे ब्रह्मोस डील की ऑफिसियल अन्नोउंसमनेट दोनों देशों की ओर से सुनने को मिली.

मतलब थोड़ा सा अपनी ओर से भी निवेश करना कितना फायदे का सौदा हो सकता है ये ब्रह्मोस डील से भारत को सिकने को मिला, ओर अब यही विदेशनीति भारत बांग्लादेश पर भी लागू कर रहा, इस डिफेंस न्यूज़ के मुताबिक भारत सरकार ने रक्षा निर्यात को बढ़ाना देने और एक देश के लिए लाइन ऑफ क्रेडिट की लिमिट बढ़ा दी है, ताकि वो मनचाहे हथियार भारत से खरीद सके, खबर के मुताबिक, बांग्लादेश अपनी सरहदी सुरक्षा के लिए मिसाइलों से लेकर चॉपर्स तक भारत से खरीदना चाहता है, आपको बता दु की पाक की ISIS संघठन घाटी के अलावा बांग्लादेश में भी सक्रिय है और वहा भी छोटे बड़े बम धमाके होते रेहते है, इसके अलावा जो म्यांमार से लगती सिमा है वहा के विद्रोही भी बांग्लादेश में घुसपैठ करते है तो इन सबपर रोक लगाने बांग्लादेश को कुछ आधुनिक हथियारों कि जरूरत है, अब चीन से मांग नही सकता क्योंकि चीन पेहले ही उसे कर्ज के जाल में फसा चुका है, योरोपियन देश पेहले पैसा मांगते है तो ऐसे में भारत ही एक देश है जो क्वालिटी हथियार भी दे रहा और क्रेडिट लिमिट भी बढ़ा रहा.

इससे एक फायदा ये भी होगा कि जिन देशों को भारत अपने हथियार बेच रहा वो भी क्रेडिट पे, उनसे हर साल भारत को करोडो रुपयों का ब्याज भी मिलेगा, ओर यही देश आगे जाकर भारत से ही हथियार खरीदेंगे जैसे कि हम 70 सालों से रशिया से खरीदते रहे, प्लस जो देश भारतीय हथियार इस्तेमाल करेंगे उँन्हे चीन के खिलाफ इकट्ठा करना मुश्किल नही होगा, भारत इन देशों से मोठे पैसे भी कमायेगा ओर चीन पे नकेल भी सकता रहेगा, इसीलिये तो बिना समय गवाये बैंक और इंडिया की ओर से डिफेस इम्पोर्ट के तहेत बांग्लादेश को 500 मिलियन डॉलर्स या उससे भी ज्यादा की लिमिट देने का ऐलान किया आप I बेफ की इस रीपोर्ट में भी देख सकते है की बांग्लादेश भारत की ओर से दी जाने वाली 500 मिलियन क्रेडिट लाइन के तहेत अपने अधिकतर डिफेंस वीपन्स भारत से इमोर्ट करेगा, इसमे ये भी कहा गया है कि रामनाथ कोविंद ओर प्राइम मिनिस्टर शेख हसीना ने इस बात पे सहमति जताई कि आपसी हित ओर द्विपक्षीय सहयोग को बढ़ावा देने दोनों देश हमेशा तत्पर रहेंगे .

वैसे भारत की इस विदेशनीति पर आपकी राय है नीचे कमेंट करके जरुर बतायेगा.

हमारे हर नये नये आर्टिकल देखणे के लिये हमारे फेसबुक पेज को follow करो : https://www.facebook.com/Arm-Updates-101345365721366/

हमारे Youtube Channel पै जने के लिये यहा क्लिक करे – https://www.youtube.com/channel/UCLimwPQ0_EdNzNy_ODWRAtg

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments